झंडेवाला देवी मंदिर में आपका स्वागत है ।

राजधानी दिल्ली के बीचोंबीच पहाडगंज स्थित बद्री भगत झंडेवाला मंदिर एक प्राचीन शक्तिपीठ है । जहाँ विराजमान माँ झंडेवाली की ख्याति पूरे भारतवर्ष में ही नहीं अपितु विदेशो में भी फैली हुई है । राजधानी दिल्ली के दशर्नीय स्थलों में गिना जाने वाला यह मंदिर विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित करता है और वह पूरी श्रॄद्धा और विश्वास के साथ मंदिर में दशनार्थ आते हैं ।
यह मंदिर कितना पुराना है यह तो कहना मुश्किल है । किंतु आज से 125 वर्ष पहले माँ के भक़्त बद्री दास जी ने माँ की प्रेरणा से इस भूमिगत मंदिर को खुदाई करके निकाला । प्राचीन प्रतिमा गुफा में विराजमान है और उस के ठीक ऊपर माँ की नई प्रतिमा पूर्ण विधि - विधान के साथ स्थापित की गई है । 1944 में मंदिर की देखरेख के लिये एक सोसायटी की स्थापना की गई जो पंजीकॄत है । वर्तमान में सोसायटी के अध्यक्ष श्री नवीन कपूर जी है जो बद्री भगत जी के वंशज हैं । मंदिर का प्रतिदिन का कार्य सोसायटी द्वारा मनोनीत न्यासियों की देखरेख में होता है ।

About Us

सामान्य प्रशासन - बद्री भगत झंडेवाला देवी मंदिर का सारा प्रबंध "1944 में स्थापित बद्री भगत झंडेवाला टेम्पल सोसायटी" द्वारा किया जाता है । इस समय सोसायटी के प्रमुख का कार्य श्री नवीन कपूर जी की देखरेख में चल रहा है। सोसायटी के अन्य न्यासी समाज के विभिन्न वर्गों से लिय गये हैं जिन्हें धार्मिक एवं सामजिक कार्यों का अनुभव है । मंदिर का प्रबंधन एक मंत्री की देखरेख में चलता है .........

Events

श्रृंगार सेवा सूचना
सूचना श्री आद्यशक्ति मां झंडेवाली की दिनांक 22.04.21 से 01.04.22 तक निम्नलिखित श्रृंगार आरती की बुकिंग हेतु मंदिर प्रांगण में यज्ञशाला के आगे 23.02.2021 से 26.02. 2021 को सायं 4 बजे से रात्रि 8.00 बजे तक एवं 28.02.2021 और 02.03.2021 को प्रातः 8:00 बजे से रात्रि 8:00 बजे तक संपर्क करें । दैनिक श्रृंगार सेवा 1. मंगल आरती (भवन एवं गुफा) 2. प्रातः श्रृंगार आरती (भवन एवं गुफा) 3. दोपहर भोग आरती 4. सायं श्रृंगार आरती(भवन एवं गुफा) 5. शयन आरती साप्ताहिक श्रृंगार सेवा 1. रविवार (दोपहर) गुफा श्रृंगार आरती 2. सोमवार (प्रातः) शिवालय श्रृंगार आरती 3. मंगलवार (प्रातः) हनुमान जी श्रृंगार आरती 4. शुक्रवार (प्रातः) संतोषी माता दरबार श्रृंगार आरती 5. शनिवार (प्रातः) काली माता श्रृंगार आरती। सभी बंधु अपने साथ पहचान पत्र और अपनी एक फोटो साथ लेकर आएं। (सेवादार बंधु अपने फार्म में अपनी टोली का नाम, सेवा का समय और बैज नम्बर लिख कर अपना फार्म जमा करवा सकते है) ■ अपनी तिथि निश्चित करने के साथ ही श्रृंगार हेतु निर्धारित राशि वहीं पर पहले आओ पहले पाओ के आधार पर जमा करवा सकते हैं। ■ सचिव झंडेवाला देवी मंदिर

News Updation

मंदिर दर्शन हेतु दिशा निर्देश
1) सभी भक्तों के लिए मास्क पहना अनिवार्य है। 2) सरकार के निर्दशानुसार 10 साल से कम उम्र वाले बच्चे एवम् 65 साल से अधिक आयु वाले बुजुर्ग ओर गर्भवती महिलाएं मंदिर परिसर में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। 3) चढ़ाने हेतु प्रसाद, माला या अन्य कोई भी वस्तु न लेकर आएं। 4) भेंट राशि मंदिर के समर्पण पात्र में ही डालें। 5) शारीरिक दूरी का ध्यान रखें।