झंडेवाला देवी मंदिर में आपका स्वागत है ।

राजधानी दिल्ली के बीचोंबीच पहाडगंज स्थित बद्री भगत झंडेवाला मंदिर एक प्राचीन शक्तिपीठ है । जहाँ विराजमान माँ झंडेवाली की ख्याति पूरे भारतवर्ष में ही नहीं अपितु विदेशो में भी फैली हुई है । राजधानी दिल्ली के दशर्नीय स्थलों में गिना जाने वाला यह मंदिर विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित करता है और वह पूरी श्रॄद्धा और विश्वास के साथ मंदिर में दशनार्थ आते हैं ।
यह मंदिर कितना पुराना है यह तो कहना मुश्किल है । किंतु आज से 125 वर्ष पहले माँ के भक़्त बद्री दास जी ने माँ की प्रेरणा से इस भूमिगत मंदिर को खुदाई करके निकाला । प्राचीन प्रतिमा गुफा में विराजमान है और उस के ठीक ऊपर माँ की नई प्रतिमा पूर्ण विधि - विधान के साथ स्थापित की गई है । 1944 में मंदिर की देखरेख के लिये एक सोसायटी की स्थापना की गई जो पंजीकॄत है । वर्तमान में सोसायटी के अध्यक्ष श्री नवीन कपूर जी है जो बद्री भगत जी के वंशज हैं । मंदिर का प्रतिदिन का कार्य सोसायटी द्वारा मनोनीत न्यासियों की देखरेख में होता है ।

About Us

सामान्य प्रशासन - बद्री भगत झंडेवाला देवी मंदिर का सारा प्रबंध "1944 में स्थापित बद्री भगत झंडेवाला टेम्पल सोसायटी" द्वारा किया जाता है । इस समय सोसायटी के प्रमुख का कार्य श्री नवीन कपूर जी की देखरेख में चल रहा है। सोसायटी के अन्य न्यासी समाज के विभिन्न वर्गों से लिय गये हैं जिन्हें धार्मिक एवं सामजिक कार्यों का अनुभव है । मंदिर का प्रबंधन एक मंत्री की देखरेख में चलता है .........

Events

मंदिर दर्शनों के लिए खुला है
1)लॉकडाउन की अवधि के कारण प्रातः 5:30 बजे से रात्रि 9:30 बजे तक मंदिर दर्शनों के लिए खुला है। 2)सभी भक्तों के लिए मास्क पहना अनिवार्य है। 3)चढ़ाने हेतु प्रसाद, माला या अन्य कोई भी वस्तु न लेकर आएं। 4) भेंट राशि मंदिर के समर्पण पात्र में ही डालें। 5) शारीरिक दूरी का ध्यान रखें।

News Updation

माँ ब्रह्मचारिणी देवी की पूजा अर्चना
बद्री भगत झंडेवाला देवी मंदिर मे शारदीय नवरात्र 17.10.2020 से आरम्भ हुए l नवरात्र के दूसरे दिन माँ भगवती के द्वितीय स्वरूप माँ ब्रह्मचारिणी की आराधना व पूजा अर्चना पूर्ण विधि – विधान के साथ की गई l घोर तपस्या करने के कारण इन्हें तपश्चरिणी अथवा ब्रह्मचारिणी नाम से अभिहित किया गया l माँ का यह स्वरूप सौम्य व अनन्त फल देने वाला है l दर्शनार्थियों के मंदिर मे प्रवेश हेतु रानी झाँसी मार्ग, देशबंधु गुप्ता मार्ग पर वरुणालय की और से व्यवस्था की गई है l भक्त अपनी बारी की प्रतीक्षा मे खड़े रहे l लाइनों मे भक्तों को अंतिम छोर तक पीने का पानी पुहंचाया गया l प्रात: 4:00 बजे से रात्रि 12 बजे तक सारे कार्यकर्मों का सीधा प्रसारण झंडेवाला देवी मंदिर यूट्यूब चैनल पर किया गया l किसी भी आपात स्थिती से निपटने के लिये एम्बुलेंस व अग्निशमन गाड़ियां सदैव तत्पर रहती हैं l कल 19.10.20 को देवी के तीसरे स्वरूप माँ चंद्रघंटा की पूजा अर्चना, विधि – विधान द्वारा की जायेगी l